इन योगासन से भगाएं अपनी टेंशन को दूर...


Published By: Srishti Gautam (srishti789gautam@gmail.com)
         

लोगों की लाइफस्टाइल इतनी भाग-दौड़ से भर चुकी है कि वो हर जगह से टेंशन और प्रेशर से घिर चुका है। बिजी होने की वजह से लोग न तो आराम कर पाते हैं और न ही खुद के लिए समय निकाल पाते हैं। इसका नतीजा यह होता है कि स्ट्रेस, डिप्रेशन और टेंशन उन्हें घेर लेता है। इतना ही नहीं, उनका मन भी एकाग्र नहीं हो पाता। इन मेंटल परेशानियों से निपटने के लिए लोग दवाइयों तक का सहारा लेते हैं। लेकिन योग के जरिए आप टेंशन को दूर भगा सकते हैं। इसके लिए यहां कुछ योग आसन बताए जा रहे हैं:

उत्तरासन

इस आसन को कैमल पोज (Camel pose) भी कहा जाता है क्योंकि इस आसन में शरीर की मुद्रा ऊंट जैसी होती है। इसे करने के लिए एक चटाई पर घुटनों के बल बैठ जाएं। पैरों को पिछली दिशा में मोड़कर सीधा कर लें। अब अपने शरीर को पीछे की दिशा में ले जाएं और दोनों हाथों को एड़ियों पर रख लें। इस दौरान दोनों बाजुओं को सीधा रखें। इस आसन को सुबह ही प्रैक्टिस करें। लेकिन ध्यान रहे कि कुछ भी खाने से 4-5 घंटे पहले इस आसन को करें। उत्तरासन से सारी थकान और स्ट्रेस दूर होता है और यह ब्लड सर्कुलेशन भी सही रखता है।

बद्ध कोणासन

इस आसन को बटरफ्लाई पोज या कोब्लर पोज भी कहा जाता है। इस आसन को करने के दौरान सीधे बैठ जाएं और अपनी टांगों को सीधा फैला लें। अब अपनी टांगों को अंदर की तरफ इस तरह से मोड़ें कि दोनों पैर एक-दूसरे को टच करें। लेकिन इस अवस्था में अपने घुटनों को साइड की दिशा में एकदम सीधा रखें। अब अपनी एड़ियों को पेल्विस के पास लाने की कोशिश करें। पेल्विस के जितने पास एड़ियों को लाने की कोशिश करेंगे उतना अच्छा होगा। अब अपनी जांघों को जमीन से टच कराने की कोशिश करें। इस आसन के दौरान धीरे-धीरे सांस को अंदर लेते रहें और छोड़ते रहें।

पश्चिमोत्तानासन

सबसे पहले एक चटाई पर सीधी अवस्था में बैठ जाएं। अब अपनी टांगों को आगे की दिशा में फैला लें। इसके बाद अपनी बाजुओं को सीधा करें और फिर उन्हें आगे की दिशा में ले जाकर पैरों की उंगलियां (खासकर अंगूठा) पकड़ने की कोशिश करें। इस दौरान अपनी नाक से घुटनों को टच करने की कोशिश करें लेकिन घुटने और दोनों बाजू सीधी रखें। इस आसन को रोजाना कम से कम 3-4 बार करें। इस आसन से थकान, तनाव और डिप्रेशन तो दूर होता ही है, साथ ही मोटापा कम करने के लिए भी यह एकदम पर्फेक्ट आसन है। इतना ही नहीं स्पर्म संबंधी समस्याओं में भी यह आसन मददगार है।

इन बातों का रखें ध्यान:

  • वैसे तो ये आसन करने में थोड़े मुश्किल हैं, लेकिन बार-बार प्रैक्टिस से आप इन आसनों को आराम से कर पाएंगे। हालांकि किसी भी आसन को करने के लिए अतिरिक्त प्रेशर न लें।
  • आसन करने के दौरान सांस फूलने लगे या फिर दिल की धड़कन बढ़ने लगे, तो आसन करना तुरंत बंद कर दें।
  • इन आसनों को सुबह के समय अन्य आसनों के साथ ही करें। इन्हें करने के बाद कम से कम 4-5 घंटे तक कुछ न खाएं।
  • डायबीटीज है तो भी इन आसनों करने से पहले एक बार अपने डॉक्टर से उचित सलाह ले लें।
  • ये आसन बेहद फायदेमंद हैं। थकान से लेकर स्ट्रेस और डिप्रेशन को दूर करने के अलावा ये मसल्स को मजूबत बनाते हैं और ब्लड सर्कुलेशन भी सही रखते हैं। साथ ही ये मोटापा कम करने में भी मदद करते हैं।
test

Leave a Comment